Library Most Important Interview Question#4

Spread the love

Librarian and assistant librarian most important Interview Question

For All Interview Post Click Here

Subscribe to all Post in your email

 

 

लाइब्रेरी के महत्व के बारे में बताइए?
लाइब्रेरी एक सामाजिक संस्था है जो निरंतर समाज का कल्याण करती रहती है उसमें से कुछ प्रमुख कार्य निम्नलिखित है: –
अवकाश के क्षणों का सदुपयोग ।
बच्चों में पढ़ने की आदत।
दुर्लभ ग्रंथों की सुरक्षा।
व्यक्तिगत उन्नति के साथ-साथ राष्ट्रीय उन्नति।
देश की साहित्यिक और सांस्कृतिक अवशेषों को सदैव सुरक्षित रखती है।
लाइब्रेरी सभ्यता एवं संस्कृति को आगे बढ़ाने में सहायक होती हैं।
व्यक्ति का चहुंमुखी विकास।
लाइब्रेरी द्वारा राष्ट्रीयता, अंतरराष्ट्रीय शांति तथा सद्भावना में भी वृद्धि होती है।
देश की आर्थिक आर्थिक, सामाजिक, वैज्ञानिक संरचना में भी लाइब्रेरी का बहुत योगदान होता है ।
( एलोन मस्क – स्पेसएक्स का निर्माण सिर्फ लाइब्रेरी में किताबों को पढ़कर किया था)
इसके अलावा शोध एवं तकनीक, व्यवसाय, मनोरंजन के क्षेत्र में भी लाइब्रेरी का बहुत महत्व है।

पुस्तकालय विज्ञान के 5 नियम के बारे में बताइए?

डॉ रंगनाथन ने सर्वप्रथम पांच सूत्रों का प्रतिपादन सन 1928 में मीनाक्षी कॉलेज,अन्नामलाई नगर में किया और सन 1931 में इनका प्रकाशन ला ऑफ लाइब्रेरी साइंस नाम से पुस्तक के रूप में किया गया ।

वे 5 सूत्र निम्नलिखित हैं :-

पुस्तकें उपयोग के लिए हैं ।

प्रत्येक पाठकों को उसकी पुस्तक मिले ।

प्रत्येक पुस्तक को उसका पाठक मिले ।

पाठक का समय बचाओ।

पुस्तकालय वर्धन शील सकता है संस्था है।

आप पाठकों का समय बचाने के लिए क्या-क्या करेंगे?
मुक्त प्रवेश प्रणाली।
कैटलॉग का निर्माण।
विषय अनुसार वर्गीकरण।
संदर्भ सेवा (रेफरेंस सर्विस ): – व्यक्तिगत सेवा।
संघ सूची(Union कैटलॉग)।
पुस्तकालय स्टाफ का अन्य कार्य में कमी करना।
पुस्तकालय की स्थिति का भी ध्यान रखें।

पुस्तकालय में पुस्तक की चोरी बंद करने के लिए आप क्या करोगे?
पुस्तकालय में कैमरा लगा सकते हैं।
पुस्तकालय के मेन गेट पर गार्ड को तैनात कर सकते हैं।
लाइब्रेरी को closed access रखकर भी पुस्तक चोरी करने से रोक सकते हैं।(परंतु यह उचित नहीं होगा)
विद्यार्थियों को अच्छी शिक्षा देने से भी इस पर रोक लगाई जा सकती है।
अगर हमारे पास बजट है तो हम आरएफआईडी टैग का इस्तेमाल करेंगे।

प्रशासन और प्रबंधन क्या अंतर होता है?
प्रशासन पुस्तकालय की नीतियों का निर्माण और निर्धारण करता है बल्कि प्रबंध नीतियों को क्रियान्वित करता है।
प्रशासन बाहरी घटकों द्वारा प्रभावित होता है बल्कि प्रबंध मानव शक्ति द्वारा प्रभावित होता है।
प्रशासन नीतियों का निर्माण व निर्धारण करता है बल्कि प्रबंध नीतियों को क्रियान्वित करता है।

पुस्तकालय के कितने प्रकार होते हैं? और इसके कुछ उदाहरण भी दीजिए?
उद्देश्य के आधार पर यह चार प्रकार के होते हैं।
सार्वजनिक पुस्तकालय – राजाराम मोहन राय लाइब्रेरी , जिला पुस्तकालय – आगरा

शैक्षणिक पुस्तकालय – स्कूल पुस्तकालय, कॉलेज पुस्तकालय, विश्वविद्यालय पुस्तकालय

विशिष्ट पुस्तकालय – रेट ऑफ नेशनल फिजिकल लेबोरेटरी, न्यू दिल्ली
लाइब्रेरी ऑफ इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी

व्यक्तिगत पुस्तकालय – सर आशुतोष मुखर्जी लाइब्रेरी

स्कूल पुस्तकालय के कार्य के बारे में बताइए?
विद्यार्थियों के लिए उपयोगी आवश्यक पाठ्य सामग्री का संग्रह।
छात्रों के शैक्षणिक सत्र के अनुसार पुस्तकों का चयन।
नए छात्रों को पुस्तकालय में संग्रहित समस्त साहित्य को विभिन्न विषयों के संबंध में अवगत कराना।
पुस्तकों का चयन बालकों की रुचि के अनुसार करना ।
पुस्तकालयों के उपयोग करने की शिक्षा देना।

राष्ट्रीय पुस्तकालय के बारे में बताइए?
राष्ट्रीय पुस्तकालय किसी भी देश का एक पुस्तकालय होता है जिस का संचालन देश की केंद्रीय सरकार करती है तथा जिसमें पूरे देश में प्रकाशित सभी सामग्री को इकट्ठा किया जाता है जिसका उपयोग देश में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति कर सकते हैं। राष्ट्र के प्रत्येक व्यक्ति के लिए पुस्तकालय का द्वार हमेशा खुला रहता है। राष्ट्र के दुर्लभ ग्रंथ जैसे पांडुलिपि, हस्तलिखित ग्रंथ भोजपत्र ग्रंथ इत्यादि को सुरक्षित रखती है।
भारत का राष्ट्रीय पुस्तकालय कोलकाता में है।

राष्ट्रीय पुस्तकालय के कार्य कौन-कौन से होती हैं?
राष्ट्रीय स्तर पर ज्ञान प्रसार का कार्य करना।
राष्ट्र के अंदर सभी प्रकाशित ग्रंथों का संग्रह करना।
अंतरराष्ट्रीय स्तर पर राष्ट्र का प्रतिनिधित्व करना।
इंटर लाइब्रेरी लोन पर पुस्तकें प्रदान करना।
बिना किसी भेदभाव के सामग्री की सुविधा प्रदान करना।
डिपॉजिटरी लाइब्रेरी का भी कार्य करती है।

किसी पुस्तकालय में सामान्यतः कितने विभाग होते हैं?
छोटी लाइब्रेरी में तो एक इंचार्ज के अधीन कई विभाग कार्य कर सकते हैं परंतु बड़े पुस्तकालयों में ऐसा संभव नहीं हो सकता।
कुछ निम्नलिखित विभाग होते हैं परंतु पुस्तकालय के प्रकार के अनुसार परिवर्तन हो सकता है।
प्रशासनिक विभाग( administrative section)
पुस्तक चयन तथा अर्जन विभाग( book selection and acquisition section)
तकनीकी विभाग( technical section)
पुस्तक आदान-प्रदान विभाग( circulation section)
पत्र-पत्रिका विभाग( periodical section)
संदर्भ विभाग( reference section)

एकेडमिक लाइब्रेरी के निम्न विभाग भी होते हैं
प्रलेखन तथा ग्रंथ संदर्भ सूची विभाग (documentation and Bibliography section)
अनुवाद विभाग (translation section)
अध्ययन कक्ष (reading room)
कंप्यूटर विभाग (computer room)

For All Interview Post Click Here

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Translate »
error: Sorry This is Not Worked.. Contact youth growth